OTT FULL FORM क्या है ? OTT Meaning in Hindi

OTT FULL FORM

ott full form, ott platform full form, what is ott platform, ott platforms in india

नमस्कार दोस्तों SIKHINDIA की वेबसाइट पर आप सभी का स्वागत है। OTT क्या है ? ओटीटी प्लेटफॉर्म का मतलब या OTT meaning in Hindi आदि के बारे में पूरी जानकारी यहाँ दी गई है । Cinema, Movies आदि मनोरंजन के क्षेत्र में OTT का Full Form क्या होता है, इसके बारे में भी आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे ।

इंटरनेट ने हमारी जिंदगी में बहुत से बदलाव किए है । इंटरनेट और कई सारी आधुनिक टेक्नोलॉजी ने हमारे बहुत से काम करने के तरीकों में बदलाव ला दिया है ।

इसी तरह OTT ( ओटीटी ) ने मनोरंजन के तरीके को काफी बदल दिया है । आजकल बहुत से OTT Platforms काफी लोकप्रिय हो रहे है, जो मनोरंजन के लिए आज की युवा पीढ़ी की पहली पसंद बन गए है ।

OTT की लोकप्रियता के चलते आजकल कई फिल्में थिएटर की जगह OTT Apps या OTT Platform पर रिलीज की जा रही है । लेकिन अभी भी ज्यादातर लोग ओटीटी के बारे में बहुत कम जानते है या बहुत से लोगों को यह जानकारी नही है कि OTT क्या है । तो आइए शुरुआत से जानते है की यह ओटीटी क्या होती है और OTT Apps का मतलब क्या होता है ।

OTT FULL FORM

OTT का फुल फॉर्म Over-The-Top होता है

what is ott platform

ओटीटी एक स्ट्रीमिंग मीडिया सेवा है जो सीधे इंटरनेट के जरिए दर्शकों तक पहुंचती है।

इसका मतलब यह है कि टेलीविजन और फिल्म की सामग्री हमारे मोबाइल, कंप्यूटर या टीवी पर इंटरनेट के माध्यम से सीधे हमारे लिए उपलब्ध है।

जैसे अगर हमें कुछ साल पहले सिनेमा देखना होता, तो हम इसे सिनेमा हॉल में या अपने टीवी पर देख सकते थे।

लेकिन आज हमें सिनेमा देखने के लिए सिनेमा हॉल जाने की जरूरत नहीं है, हम इसे अपने मोबाइल पर देख सकते हैं।

हमारी पसंद का सिनेमा या सीरियल घर बैठे देखा जा सकता है और यह ओटीटी यानी ओवर-द-टॉप की वजह से संभव हो पाया है।

इसका मतलब यह है कि एक सामग्री प्रदाता पारंपरिक केबल सिस्टम को दरकिनार करते हुए दर्शकों को सीधे इंटरनेट पर अपनी सामग्री प्रदान कर रहा है, यही वजह है कि इस सेवा को शीर्ष पर कहा जाता है।

नेटफ्लिक्स, अमेज़ॅन प्राइम, स्पॉटिफ़, यूट्यूब, आदि कुछ सबसे लोकप्रिय ओटीटी सेवा प्रदाता हैं।

तो यह मानकर कि अगर मैं अपने लैपटॉप पर नेटफ्लिक्स पर मूवी देख रहा हूं, तो इसका मतलब है कि मैं नेटफ्लिक्स ओटीटी सर्विस का इस्तेमाल करके मूवी देख रहा हूं।

OTT सेवा कैसे काम करती है?

ओटीटी पुराने केबल, ब्रॉडकास्ट और सैटेलाइट टेलीविजन प्लेटफॉर्म की तरह काम नहीं करता, यह इंटरनेट के जरिए काम करता है।

ओटीटी सर्विस प्रोवाइडर के पास जो कंटेंट उपलब्ध होता है, वह यूजर तक पहुंचता है कि सब्सक्राइबर किस डिवाइस के हिसाब से उस सब्सक्राइबर की डिमांड पर कंटेंट देखना चाहता है।

ओवर द टॉप सर्विस प्रोवाइडर लोगों को मूवी और टीवी शो भेजने के लिए कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क यानी सीडीएन का इस्तेमाल करते हैं।

नेटफ्लिक्स या अमेज़ॅन प्राइम जैसे ओटीटी सेवा प्रदाता दुनिया के विभिन्न देशों में अपने सर्वर का निर्माण करते हैं ताकि उनकी वीडियो सामग्री को बिना किसी परेशानी के दुनिया के किसी भी हिस्से से आसानी से देखा जा सके,

और इस सीडीएन तकनीक का एक और फायदा यह है कि यदि एक स्थान पर कोई समस्या आती है, तो केवल उस स्थान के लोग ही इस समस्या से प्रभावित होंगे, बाकी दुनिया के लोग सामान्य सेवा का आनंद ले सकेंगे।

दुनिया भर के कुछ प्रसिद्ध OTT प्रदाता

  • Netflix
  • Amazon Prime Video
  • HBO Now
  • Sling
  • Hulu
  • Disney Hotstar
  • Sony Liv
  • VOOT
  • Jio Cinema

इनके अलावा दुनिया भर में कई अन्य इमर्जिंग ओटीटी प्लेटफॉर्म हैं।

यह भी पढ़ें :mbbs full form

यह भी पढ़ें :A to Z full form

OTT के लाभ

ओटीटी आज अपने अनगिनत फायदों के कारण पुराने सेटअप बॉक्स टीवी और केवल टीवी को बहुत तेजी से बदल रहा है। कुछ प्रमुख फायदों की बात करें तो ये हैं ओटीपी के कुछ फायदे-

  • OTT का सबसे बड़ा फायदा यह है कि हमें उस पर बिना विज्ञापन के कंटेंट देखने को मिल जाता है।
  • ओटीटी पर कंटेंट समय के अनुसार नहीं बदलता है, मतलब हम अपनी सुविधा के अनुसार कोई भी मूवी या टीवी शो देख सकते हैं।
  • जैसे अगर हमें कोई फिल्म देखनी है और अगर वह टीवी पर आ रही है तो हमें उस फिल्म को टीवी की टाइमिंग के हिसाब से देखना होगा।
  • जबकि ओटीटी प्लेटफॉर्म पर हम जब चाहें, अपनी सुविधा के अनुसार मूवी देख सकते हैं।
  • ओटीटी प्लेटफॉर्म का एक और बड़ा फायदा यह है कि हम अपने मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर या स्मार्ट टीवी पर ओटीटी कंटेंट देख सकते हैं।
  • आज हम टीवी पर आने वाले लगभग सभी लाइव कंटेंट को ओटीटी प्लेटफॉर्म पर देख सकते हैं, इसलिए टीवी को अलग से रिचार्ज करने के पैसे बच जाते हैं।
  • ओटीटी प्लेटफॉर्म पर आपको ढेर सारी फिल्में, टीवी शोज, न्यूज, स्पोर्ट्स, म्यूजिक आदि जैसे ढेर सारे कंटेंट मिल जाएंगे।

OTT के नुकसान

  • ओटीटी पर किसी भी कंटेंट को देखने के लिए हमें इंटरनेट की जरूरत होती है, आज भी इंटरनेट हर जगह अच्छी स्पीड के साथ उपलब्ध नहीं है, और महंगा भी है।
  • यदि आपके द्वारा सब्सक्राइब किए गए ओटीटी प्लेटफॉर्म पर कुछ विशिष्ट सामग्री उपलब्ध है, तो आपको नए ओटीटी प्लेटफॉर्म की सदस्यता के लिए फिर से पैसा खर्च करना होगा।

OTT के बारे में रोचक तथ्य

  • ओटीटी पूरी दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाले व्यवसायों में से एक है
  • आज अमेरिका और कई अन्य देशों के 40 प्रतिशत से अधिक इंटरनेट उपयोग के लिए लोग ओटीटी का उपयोग कर रहे हैं।
  • नेटफ्लिक्स दुनिया का सबसे बड़ा ओटीटी सेवा प्रदाता है और दुनिया में सबसे प्रसिद्ध भी है।
  • भारत में Disney Hotstar के सबसे ज्यादा सब्सक्राइबर हैं और दूसरे नंबर पर Amazon Prime Video है।
  • सिस्को के एक शोध के अनुसार, 2022 तक कुल इंटरनेट ट्रैफिक का 80% वीडियो के कारण होगा।
  • भारत का कुल सिनेमा बाजार करीब 15000 करोड़ रुपये का है, जिसका ओटीटी प्लेटफॉर्म 2023 तक बराबर हो जाएगा
  • 2000 तक, ओटीटी प्लेटफॉर्म 5000 करोड़ रुपये तक पहुंच गया था।

sikhindia.in के ब्लॉग पर आने के लिए और इस ब्लॉग के माध्यम से मुझे सपोर्ट करने के लिए मैं आप सभी का आभारी रहूँगा और आप सब का धन्यवाद करता हु | अगर आप को पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट सेक्शन के माध्यम से आप मुझसे संपर्क कर सकते है |दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी हो तो या इस से सम्बंधित किसी भी सवाल के लिए आप हमसे हमारे फेसबुक पेज पर contact कर सकते है। अंत तक बने रहने के लिए 

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *