CV Full Form in Hindi

CV Full Form in Hindi

CV Full Form

नमस्कार दोस्तों sikhindia के ब्लॉग पर आप सभी का हार्दिक स्वगात है। आज की इस पोस्ट मैं हम बात करने वाले है cv के बारे मैं CV Full Form in Hindi,CV Full Form ,cv क्या होता है ,cv का पूरा नाम क्या है और cv कैसे बनाया जाता है पूरी जानकारी हम इस लेख मैं आपको प्रदान करने वाले है।

cv full form, full form of cv, cv ka full form, cv full form in hindi, what is the full form of cv

CV Full Form

CV Full Form – cv का मतलब होता है Curriculum Vitae इसे बायोडाटा भी कहा जाता है।

यह किसी व्यक्ति की शैक्षिक योग्यता और अन्य अनुभवों का लिखित अवलोकन है। यह एक उम्मीदवार का पूरा प्रोफाइल है जिसमें उसका पूरा नाम, फोन नंबर, पता, ईमेल आईडी, शैक्षणिक योग्यता, शौक, उपलब्धियां, सॉफ्ट स्किल्स, ज्ञात भाषाएं, कंप्यूटर कौशल, करियर उद्देश्य, वैवाहिक स्थिति इत्यादि शामिल हैं। एक आदर्श सीवी में शामिल नहीं होना चाहिए 2 या 3 A4 से अधिक आकार के पृष्ठ।

CV की फुल फॉर्म Curriculum Vitae होती है. इसको भाषा में बायोडाटा कहा जाता है. CV मे आप अपनी Life के बारे में लिखते है. लेकिन Bio Data की तरह इसमें हैं हर Information नही लिख सकते है. CV मे आप नौकरी और अपने बारे में सम्‍बन्धित जरूरी Information लिख सकते है. CV में आप अपनी Education के बारे मे और Award, College का Name Result, All Degree और जो भी आपने अपनी जिदंगी मे उपलब्‍धियाँ पाई है उन सब के बारे में विस्‍तार से लिख सकते है. सबसे खास बात जो आपको याद रखनी है आपका CV 3 या 4 पेज का होना चाहिए है.

सीवी में आपको फोटो, वेतन इतिहास, संदर्भ और पिछली नौकरी छोड़ने का कारण प्रदान करने की कोई आवश्यकता नहीं है। अनुरोध पर नियोक्ता को ये विवरण अलग से प्रदान किए जाने चाहिए।

अधिकांश राष्ट्रमंडल देशों, आयरलैंड और यूनाइटेड किंगडम में, सीवी में 2 से अधिक पृष्ठ नहीं होते हैं। इसमें केवल नौकरी चाहने वाले के रोजगार इतिहास, शैक्षिक जानकारी और कुछ व्यक्तिगत जानकारी का सारांश शामिल है। एशिया के कुछ हिस्सों में आवेदक की फोटो, जन्म तिथि और सबसे हालिया वेतन जानकारी की आवश्यकता होती है।

CV कैसे लिखते है (CV Writing Tips)

  • अपने सीवी या रिज्यूमे को स्थिति से मिलाएं: आप जिस नौकरी के लिए आवेदन कर रहे हैं, उससे संबंधित अपनी शिक्षा, कार्य अनुभव और कौशल को हाइलाइट करें।
  • कीवर्ड: अपने सीवी या रिज्यूमे में नौकरी के विवरण से कीवर्ड शामिल करें ताकि यह दर्शाया जा सके कि आप नौकरी के लिए उपयुक्त उम्मीदवार हैं।
  • टेम्प्लेट: अपने सीवी या रिज्यूमे की संरचना के लिए उपयुक्त टेम्पलेट का उपयोग करें। यह नियोक्ता को आपके अनुभव और योग्यता को तुरंत नोटिस करने या देखने में मदद करता है।
  • प्रूफरीड: यह सुनिश्चित करने के लिए कि कोई वर्तनी या व्याकरण संबंधी गलतियाँ नहीं हैं, अपने सीवी या रिज्यूमे की अच्छी तरह से जाँच करें।

यह भी पढ़ें : ITI की FULL FORM 

CV  और RESUME में अंतर

वैसे तो  और रिज्यूमे दोनों का इस्तेमाल एक ही उद्देश्य के लिए किया जाता है, लेकिन इन दोनों में थोड़ा अंतर है।

Criteria Curriculum Vitae Resume
Layout  इसमें आपकी शैक्षिक और शैक्षणिक जानकारी के साथ-साथ शिक्षण और शोध के अनुभव, पुरस्कार, सम्मान आदि शामिल हैं।
cv स्थिर है और विभिन्न पदों के लिए नहीं बदलता है। यह उस विशेष नौकरी के बारे में सबसे प्रासंगिक पेशेवर अनुभवों का संक्षिप्त सारांश है जिसके लिए आप आवेदन कर रहे हैं।
रिज्यूमे को नौकरी की स्थिति के अनुसार बदला जा सकता है।
Length (पृष्ठों के लिए कोई सीमा नहीं)कोई विशेष प्रारूप नियम नहीं है, इसकी जानकारी केवल आवेदक के सर्वोत्तम सूट के इर्द-गिर्द घूमती है। यह शैक्षिक और शैक्षणिक पृष्ठभूमि सहित आपके पूरे करियर को कवर करता है। लघु (केवल 1 या 2 पृष्ठ)
Purpose यह आमतौर पर शैक्षणिक पदों जैसे संकाय खोलने, इंटर्नशिप, फेलोशिप आदि के लिए उपयोग किया जाता है। यह आमतौर पर व्यावसायिक उद्योग, सरकारी और गैर-लाभकारी नौकरियों के लिए उपयोग किया जाता है।

CV Format कैसे बनाते है

CV बनाना बहुत आसान होता है CV Format कैसे बनाते है आइये अब इसके बारे में जानते है. दोस्तों जब भी आप कोई CV बनाते है तब आपको कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना चाहिए, जिससे आपके CV को समझने में सामने वाला को प्रॉब्लम ना आए और वो आपके CV को आसानी से समझ पाए उसमे क्या लिखा है. यहाँ पर हम आपको कुछ Main Topics बताने जा रहे है जो आपके CV बनाने के के लिए बहुत ही सहायता करेंगे. तो फिर चलिए जानते है CV कैसे बनाया जाता है.

Career Objective

Career Objective में आपको सबसे पहले अपने Career के बारे में Details से लिखना होता है. इसमें आपको अपने करियर के बारे में सब कुछ लिखना होगा याद रहे इसमें आपको कुछ भी नहीं छोड़ना है. एक और बात जो बहुत ही Important इसमें आप आपने आने वाले करियर में क्या करना चाहते है, ये सब भी Job के हिसाब से सोच कर इसमें आपको लिखना चाहिए.

Qualification

Qualification दोस्तों जैसा की आप जानते है, इस हैडिंग में आपको अपने Qualification के बारे में लिखना होता है. इस हैडिंग में आपको वो सब कुछ लिखना होता है जो आपने अब तक अपनी Education Life में हासिल किया है.

Experience

दोस्तों अब बात आती है Work Experience की. इस हैडिंग में आपको अपने Work Experience के बारे में लिखना होता है. लेकिन अगर आपके पास किसी भी तरह का कोई Work Experience नही है और आप एक Fresher है तो आपको इसको लिखने की कोई जरूरत नही है.

आशा करता हूँ आपको मेरे द्वारा लिखा गयी पोस्ट CV Full Form in Hindi पसंद आया होगा और आपको इस से कुछ नया सिखने को मिला होगा 

sikhindia.in के ब्लॉग पर आने के लिए और इस ब्लॉग के माध्यम से मुझे सपोर्ट करने के लिए मैं आप सभी का आभारी रहूँगा और आप सब का धन्यवाद करता हु | अगर आप को पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट सेक्शन के माध्यम से आप मुझसे संपर्क कर सकते है |दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी हो तो या इस से सम्बंधित किसी भी सवाल के लिए आप हमसे हमारे फेसबुक पेज पर contact कर सकते है। अंत तक बने रहने के लिए 

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *