Ayushman Bharat दिवस पर निबंध हिंदी में

आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना पर निबंध

आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना पर निबंध: 

प्रधान मंत्री, श्री नरेंद्र मोदी का सम्मान करते हुए, लगभग 50 करोड़ भारतीयों को कवर करने के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना के रूप में आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना या PMJAY की शुरुआत की।

Ayushman Bharat योजना की पहले से ही कई सफलता की कहानियां हैं। इस योजना का उद्देश्य तृतीयक और माध्यमिक स्वास्थ्य सेवा को पूरी तरह से कैशलेस बनाना है। आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना के लाभार्थियों को एक ई-कार्ड प्रदान किया जाता है जिसका उपयोग किसी भी निजी या सार्वजनिक अस्पताल में सेवाओं का लाभ उठाने के लिए किया जा सकता है। यह देश के कल्याण के लिए एक प्रासंगिक योजना है, और इसलिए, हमने आयुष्मान भारत योजना पर कुछ विस्तारित, लघु और दस पंक्तियों का निबंध संकलित किया है।

छात्रों और बच्चों के लिए आयुष्मान भारत योजना पर लंबे और छोटे निबंध हिंदी में 
नीचे 400-500 शब्दों का एक आयुष्मान भारत योजना निबंध दिया गया है और यह कक्षा 7, 8, 9 और 10 के छात्रों के लिए उपयुक्त है और कक्षा 1, 2, 3 के छात्रों के लिए लगभग 100-150 शब्दों का एक छोटा टुकड़ा है। 4, 5, और 6.

आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना पर लंबा निबंध अंग्रेजी में 500 शब्द

आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना, जिसे हाल ही में PMJAY या प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना का नाम दिया गया था, की स्थापना वर्ष 2008 में 23 सितंबर को की गई थी। यह योजना भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा समाज के वंचित वर्ग तक पहुंचने और उनकी मदद करने के लिए शुरू की गई थी।

यह योजना देश में कहीं भी सभी पंजीकृत सार्वजनिक और निजी अस्पतालों में 6 लाख से 12 लाख की वार्षिक आय वाले परिवारों के लिए कैशलेस स्वास्थ्य देखभाल उपचार को कवर करने के लिए शुरू की गई थी। इस योजना में अस्पताल में भर्ती होने से पहले 3-4 दिन और अस्पताल में भर्ती होने के बाद के 14-15 दिनों के खर्च का कवरेज है। आयुष्मान भारत योजना सभी माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य देखभाल को कवर करती है।

आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना के लिए दस करोड़ से अधिक परिवारों ने अपना नाम दर्ज कराया है, जहां यह योजना प्रति परिवार लगभग 5 लाख रुपये का प्रावधान करती है। ग्रामीण क्षेत्रों में, योजना मुख्य रूप से अनुसूचित जनजाति और अनुसूचित जाति के परिवारों के लिए है, जो परिवार एक बार बंधुआ मजदूर थे, एक परिवार जिसमें 16-59 आयु वर्ग के भीतर कोई सदस्य नहीं है। जबकि शहरी क्षेत्रों में, यह योजना मुख्य रूप से कूड़ा बीनने वालों, धोबी, गार्ड, घर-आधारित कारीगरों और कई कम आय वाले समूहों के लिए लागू है।

सरकारी नौकरी करने वाले, सभ्य घरों में रहने वाले लोग जिनकी मासिक आय 10000 रुपये से अधिक है, आदि योजना के लिए खुद को नामांकित करने के लिए पात्र नहीं हैं। इस योजना में शामिल कुछ महत्वपूर्ण ऑपरेशन खोपड़ी आधारित सर्जरी, डबल वाल्व रिप्लेसमेंट, प्रोस्टेट कैंसर, पल्मोनरी वॉल्व रिप्लेसमेंट, जलने के बाद डिफिगरेशन के लिए टिश्यू एक्सपैंडर, एंजियोप्लास्टी, गैस्ट्रिक पुल-अप के साथ लैरींगो लैरींगक्टोमी और कई अन्य हैं। आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना के तहत पंजीकृत मरीज चयनित अस्पतालों में ये ऑपरेशन मुफ्त में करवा सकते हैं।

कार्यक्रम में ओपीडी, अंग प्रत्यारोपण, संबंधित कॉस्मेटिक प्रक्रियाएं, दवा पुनर्वास आदि जैसे मुद्दे शामिल नहीं हैं। आयुष्मान भारत राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन परिषद या एबी-एनएचपीएमसी ने दिशा-निर्देश देने और एक परिषद के साथ केंद्र और राज्य के समन्वय को देखने के लिए कदम बढ़ाया है, जिसके अध्यक्ष के रूप में केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री हैं।

PMJAY योजना सभी केंद्र शासित प्रदेशों और 26 राज्यों में तेलंगाना, पश्चिम बंगाल और ओडिशा को छोड़कर और केंद्र शासित प्रदेशों के बीच दिल्ली में मान्य है।

भारत एक ऐसा देश है जहां बड़ी संख्या में लोग गरीबी और खराब जीवन स्तर के कारण बड़ी बीमारियों से पीड़ित हैं, और आयुष्मान भारत योजना लोगों को उनके साथ रहने में मदद करती है। कार्यक्रम की शुरुआत सुचारू रूप से नहीं हुई, लेकिन समय के साथ धीरे-धीरे यह अपने आप में काफी मददगार साबित हो रहा है। आयुष्मान भारत योजना पंजीकरण प्रक्रिया आसान है, और यह लोगों को अपने परिवारों की सुरक्षा करने की अनुमति देती है।

यह भी पढ़ें :सुभाष चंद्र बोस पर निबंध हिंदी में 500+ word essay on Subhash Chandra Bose in hindi

यह भी पढ़ें :1000+word essay on World Kidney Day in Hindi विश्व किडनी दिवस पर निबंध हिंदी में

आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना पर लघु निबंध हिंदी  में 150 शब्द

आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना, जिसे प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना के रूप में भी जाना जाता है, एक राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजना है जिसे भारत की केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित किया जाता है। इसका लक्ष्य उन गरीब और वंचित परिवारों की सेवा करना है, जो अस्पताल का खर्च वहन करने के लिए पर्याप्त राशि नहीं कमाते हैं।

इस योजना का कोई आयु मानदंड नहीं है, और कोई भी परिवार जिसकी वार्षिक आय 6,00,000 से 12 लाख के बीच है, नामांकन के लिए पात्र है। आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना के लाभार्थी कार्यक्रम के तहत किसी भी सार्वजनिक या निजी अस्पताल में मुफ्त में स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। जरूरतमंदों को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लिए पीएमजेएवाई के तहत देश भर से हजारों अस्पताल हैं। यदि यह योजना योजना के अनुसार सामने आती है, तो देश के स्वास्थ्य में काफी सुधार होगा।

आयुष्मान भारत [Ayushman Bharat] योजना निबंध पर 10 पंक्तियाँ हिंदी  में

  1. आयुष्मान भारत योजना या PMJAY को साल 2018 में सितंबर के महीने में लॉन्च किया गया था।
  2. भारत के आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की।
  3. आयुष्मान भारत योजना में मुख्य रूप से दो तत्व हैं, अर्थात् कल्याण केंद्र और सुरक्षा योजना।
  4. इस योजना में निजी और सार्वजनिक दोनों अस्पताल शामिल हैं।
  5. आयुष्मान भारत योजना का उद्देश्य दस करोड़ से अधिक वंचित परिवारों के लिए स्वास्थ्य बीमा कवर करना है।
  6. इस योजना के तहत, भारत सरकार ने देश भर में कई स्वास्थ्य केंद्र स्थापित किए हैं।
  7. इस योजना के लाभार्थियों को अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा होगी।
  8. आयुष्मान भारत योजना में हजारों अस्पताल अपना नामांकन करा रहे हैं।
  9. प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना या पीएमजेएवाई आयुष्मान भारत योजना का नया नाम है।
  10. यह योजना सुचारू रूप से आगे नहीं बढ़ी और विवादों का सामना करना पड़ा, लेकिन अब यह काफी सफल पहल है।

sikhindia.in के ब्लॉग पर आने के लिए और इस ब्लॉग के माध्यम से मुझे सपोर्ट करने के लिए मैं आप सभी का आभारी रहूँगा और आप सब का धन्यवाद करता हु | अगर आप को पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट सेक्शन के माध्यम से आप मुझसे संपर्क कर सकते है |दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी हो तो या इस से सम्बंधित किसी भी सवाल के लिए आप हमसे हमारे फेसबुक पेज पर contact कर सकते है। अंत तक बने रहने के लिए 

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *