आर्किटेक्चर (Architecture) क्या है कैसे बने पूरी जानकारी

architect kese bane

 

Sikhindia की वेबसाइट पर आप सभी का स्वागत है। दोस्तों आज की पोस्ट में हम वास्तुकार[architect] कैसे बनते है और वास्तुकार क्या क्या काम करते है,इनकी सैलरी क्या है। एक वास्तुकार [architect] बनने के लिए कौन   कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है

इन सभी बातों पर चर्चा करेंगे।  वास्तुकार  कैसे बनें, वास्तुकार बनने के लिए क्या करें, वास्तुकार कैसे बना जाता है, वास्तुकार क्या करता है, वास्तुकार कैसे काम करता है, वास्तुकार क्या क्या काम करता है, वास्तुकार को जॉब कन्हा मिलेगी, वास्तुकार की सैलरी क्या होगी इन सभी बातों को जानने के लिए पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें। 

भारत देश में बहुत से पुरानी पुरानी ऐतिहासिक इमारतें हैं जिनमें से कुछ तो दुनिया के अजूबों में से एक है और यह सभी आज भी पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है। जब आप इनको देखते होंगे तब आपके मन में भी आता होगा कि यह किसने बनाई हुई है। दोस्तों इन सभी इमारत का डिजाइन वास्तुकार बनाते हैं। 

आज का समय innovation का समय है, दोस्तों हमारे देश में construction का कार्य तेजी से बढ़ रहा है और इसे आगे भी यह दोगुनी रफ्तार से बढ़ने वाला है। दिन प्रतिदिन नये नाश डिजाइन और नयी नयी buildings का निर्माण हो रहा है। जिनको डिजाइन वास्तुकार करता है। इसे देखते हुए वास्तुकार की मांग और भी अधिक बढ़ने वाली है। 

read also:Animation me career kaise banaye- best way to join Fi1m industry

तो अगर आप भी एक

वास्तुकार बनना चाहते है और जानना चाहते है की architect कैसे बनते हैं तो हम आपको इस पोस्ट में आर्किटेक्ट के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं आइए जानते हैं आर्किटेक्ट किसे कहते हैं

architecture meaning in hindi

architect का मतलब वास्तुकार होता है। वास्तुकार किसी भी भवन, होटल, फ्लैट, गार्डन, बिल्डिंग और अन्य सभी इमारतों का डिजाइन बनाता है। 

वास्तुकार का काम प्लान करना, डिजाइन बनाना और अपनी बनाई हुई डिजाइन को ठेकेदारों द्वारा तैयार करवाना होता है। 

वास्तुकार कैसे बनें

ARCHITECT बनने के लिए आपको सबसे पहले 12वीं पास करनी होगी। 12वीं  साइंस सब्जेक्ट के साथ करनी होगी 12वीं में आपके फिजिक्स और MATHS विषय अनिवार्य है। और 12वीं में 50% मार्क्स अनिवार्य है। 12वीं पास करने के बाद आप आपको ग्रेजुएशन कोर्स करने होते है। 

Graduation course after 12th

B.ARCH – bachelor in architecture

  • bachelor in architecture कोर्स एक undergraduate कोर्स है। जिसे करने में आपको 5 वर्ष लगेंगे। 
  • इस कोर्स में एडमिशन के लिए 12वीं 50% मार्क्स से पास होना अनिवार्य है
  • यह कोर्स करने के लिए आपको 2 लाख से 5 लाख तक फीस देनी पड़ेगी
  • यह कोर्स करने के बाद आपको 30000 तक की नौकरी मिल जाएगी। आपके अनुभव के हिसाब से सैलरी बढ़ कर 2 लाख महीने तक हो जाएगी। 

read also : सिविल इंजीनियर कैसे बनें [How to become a civil engineer]

M.ARCH – master in architecture

  • यह एक पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री है। जिसे आप अंडर ग्रेजुएट के बाद कर सकते हो। 
  • master in architecture में एडमिशन आप bachelor in architecture डिग्री करने के बाद ही ले सकते हो। 
  • master in architecture में एडमिशन के लिए आपके bachelor in architecture में 50% मार्क्स होने चाहिए
  • इस कोर्स की अवधि 2 साल की होती है जो 4 सेमेस्टर में complete होता है। 
  • इस कोर्स में एडमिशन entrance एग्जाम या undergraduate की डिग्री के आधार पर होता है

वास्तुकार बनने के लिए कंप्यूटर कोर्स

ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स करने के बाद आपको कुछ कंप्यूटर सॉफ्टवेयर भी सीखने होंगे। जिनकी मदद से आप डिजाइन आसानी से बना सकते हो। 

  • Auto cad
  • Photoshop
  • Hand drawing
  • Indesigne
  • 3d studio max

इनमें से कोई एक सॉफ्टवेयर सीखना एक आर्किटेक्ट के लिए जरूरी होता है। उपर दिये गये सॉफ्टवेयर में से कोई एक आप सिख सकते है। 

architects job

  • Building Surveyor
  • Commercial/Residential Surveyor
  • Higher Education Lecturer
  • Historic Buildings Inspector/Conservation Officer
  • Landscape Architect
  • Planning And Development Surveyor
  • Production Designer, Theatre/Television/Film
  • Structural Engineer
  • Town Planner

famous architects in india

  • बिमल पटेल Bimal patel
  • हफीज  कांट्रेक्टर Hafeez contractor
  • वृंदा  सौम्या Brinda somaya
  • राज रेवाल Raj rewal
  •  बी  वी  दोषी B V Doshi
  •  चार्ल्स  मार्क  कोरिया Charles mark correa
  • समीप पदोरा Sameep padora
  • राहुल मेहरोत्रा Rahul mehrotra
  • राजीव सैनी Rajiv saini
  • संजीव पंजाबी  और  संगीता मर्चेंट Sanjeev punjabi and sangeeta merchant

architecture salary

आर्किटेक्ट की शुरुआती सैलरी 30 से ₹40000 होती है 2 या 3 साल के वर्क एक्सपीरियंस के बाद सैलरी बढ़ा दी जाती है और दो से तीन लाख तक मंथली हो जाती है अलग-अलग कंपनियों में अलग-अलग सैलरी पैकेज मिल गया है आपकी सैलरी आपकी कार्यशैली व वर्क एक्सपीरियंस के आधार पर तय की जाती है

इसके अलावा अगर आप भारत देश के बाहर किसी ने देश में आर्किटेक्ट की जॉब करते हैं तो वहां पर आपकी सैलरी यहां की तुलना में काफी अधिक रहती है

विदेशों में आर्किटेक्ट की सैलरी सालाना पैकेज के आधार पर तय कि जाती है। विदेशों में आपको 30 से 3500000 रुपए सालाना पैकेज दिया है

 best architecture colleges in india

  • Indian Institute of Technology – [IIT], Kharagpur 

  • Indian Institute of Technology – [IIT], Roorkee

  • NATIONAL INSTITUTE OF TECHNOLOGY – [NITC], CALICUT

  • SCHOOL OF PLANNING AND ARCHITECTURE – [SPA], NEW DELHI

  • Gateway Education, Sonepat
  • College of Engineering, Trivandrum
  • Gateway College of Architecture and Design (GCAD), Sonepat
  • The School of Planning and Architecture, Bhopal (SPA Bhopal)
  • Birla Institute of Technology – [BIT Mesra], Ranchi

  • Aligarh Muslim University (AMU)

तो दोस्तों आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई उपरोक्त जानकारी से आप को आर्किटेक्ट के बारे में अच्छी खासी जानकारी मिलेगी है पोस्ट से संबंधित किसी भी सवाल के लिए आप कमेंट सेक्शन में मुझसे संपर्क कर सकते हैं धन्यवाद

sikhindia.in  के ब्लॉग पर आने के लिए और इस ब्लॉग के माध्यम से मुझे सपोर्ट करने के लिए मैं आप सभी का आभारी रहूँगा और आप सब का धन्यवाद करता हु | अगर आप को पोस्ट अच्छी लगी हो तो कमेंट सेक्शन के माध्यम से आप मुझसे संपर्क कर सकते है |

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी हो तो या इस से सम्बंधित किसी भी सवाल के लिए आप हमसे हमारे फेसबुक पेज पर contact कर सकते है।

धन्यवाद

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *