15 august: स्वतंत्रता दिवस पर निबंध हिंदी और इंग्लिश में| Independence Day best Essay in Hindi and ENGLISH

15 august: स्वतंत्रता दिवस पर निबंध

नमस्कार दोस्तों

sikhindia की वेबसाइट पर आपका स्वागत है दोस्तों आज हम हमारे स्वतंत्रता दिवस यानी कि 15 august के बारे में चर्चा करेंगे दोस्तों.

दोस्तों 15 अगस्त 1947 को हमारा देश अंग्रेजों से आजाद हुआ था और इस दिन को हर वर्ष स्वतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। इस पोस्ट के माध्यम से 15 अगस्त पर निबंध प्राप्त किया जा सकता है। स्वतंत्रता दिवस पर आधारित किसी भी निबंध प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए छात्र यहां से Independence Day Essay in Hindi प्राप्त कर सकते हैं।

इस वर्ष भारत अपना 75वा स्वतंत्रता दिवस मनाएगा। 15 अगस्त 1947 को हमारा देश ब्रिटिश शासन से पूरी तरह आज़ाद हुआ था। इस दिन को हम सभी भारतवासी बहुत ही उत्साह और गौरव के साथ मनाते हैं। आज़ादी मिलने के बाद हर वर्ष हम इस दिन को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं। इस दिन सभी सरकारी कार्यालय जैसे बैंक, पोस्ट ऑफिस आदि में अवकाश होता है। इसके साथ ही सभी स्कूल और ऑफिस में तिरंगा फहराया जाता है। 

यह भी पढ़ें :  corona virus kya hai?कोरोना वायरस से बचने के 3 BEST घरेलु उपाय

15 अगस्त पर निबंध

15 अगस्त 1947 भारत के लिए बहुत भाग्यशाली दिन था। इस दिन अंग्रजों की लगभग 200 वर्ष गुलामी के बाद हमारे देश को आज़ादी प्राप्त हुई थी। भारत को आज़ादी दिलाने के लिए कई स्वतंत्रता सेनानियों को अपनी जान गवानी पड़ी थी। स्वतंत्रता सेनानियों के कठिन संघर्ष के बाद भारत अंग्रजों की हुकूमत से आज़ाद हुआ था। तब से ले कर आज तक 15 अगस्त को हम स्वतंत्रता दिवस मानते हैं।

यह भी पढ़ें :40+BEST Love shayari in hindi 2021

स्वतंत्रता दिवस को भारत में राष्ट्रीय अवकाश होता है। इसके एक दिन पहले भारत के राष्ट्रपति देश के समक्ष संबोधित करते हैं। जिसे रेडियो के साथ कई टीवी चैनेल्स में भी दिखया जाता है। स्वतंत्रता दिवस को हर वर्ष देश के प्रधानमंत्री लाल किला पर तिरंगा फहराते हैं। तिरंगा फहराने के बाद राष्ट्र गान गया जाता है और 21 बार गोलियां चला कर सलामी भी दी जाती है। इसके साथ ही भारतीय सशस्त्र बल, अर्धसैनिक बल और एनएनसीसी कैडेड परेड करते हैं। इस दिन लाल किला से टीवी के डी डी नेशनल चैनल और आल इंडिया रेडियो में सीधा प्रसारण किया जाता है। आतंकवाद के खतरे को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के कड़े इन्तेजाम भी किये जाते हैं।

यह भी पढ़ें :40+ रक्षाबंधन के नारे स्लोगन Raksha Bandhan Nare Slogan in Hindi 

केवल देश की राजधानी के साथ देश के अन्य सभी राज्यों में भी मुख्यमंत्री सम्मान के साथ तिरंगा फहराते हैं। 15 अगस्त को हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों को श्रधांजलि दी जाती और उनका सम्मान किया जाता है। इस दिन देशभक्ति के गीत और नारे लगाये जाते हैं। वहीं कुछ लोग पतंग उड़ा कर आजादी का पर्व मनाते है।

भारत में हर वर्ष स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को मनाया जाता है। प्रत्येक व्यक्ति के लिए स्वतंत्रता का विशेष महत्व होता इसलिए हर भारतीय के लिए यह दिन बहुत महत्व रखता है। 15 अगस्त 1947 को भारत को अंग्रेजों की परतंत्रता के बाद स्वतंत्रता प्राप्त हुई थी। स्वतंत्रता दिवस को हम राष्ट्रीय त्योहार के रूप में मानते हैं।

कई वर्षों के विद्रोहों के बाद ही हमने स्वतंत्रता प्राप्त की और 14 और 15 अगस्त 1947 की मध्यरात्रि को भारत एक स्वतंत्र देश बन गया। दिल्ली के लाल किला में पंडित जवाहरलाल नेहरू ने पहली बार भारत के झंडे का अनावरण किया था। उन्होंने मध्यरात्रि के स्ट्रोक पर “ट्रास्ट विस्ट डेस्टिनी” भाषण दिया। पूरे राष्ट्र ने उन्हें अत्यंत खुशी और संतुष्टि के साथ सुना। तब से हर वर्ष स्वतंत्रता दिवस पर, प्रधान मंत्री पुरानी दिल्ली में लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं और जनता को संबोधित करते हैं। इसके साथ ही तिरंगे को 21 तोपों की सलामी भी दी जाती है।

यह भी पढ़ें : 15 अगस्त पर भाषण हिन्दी और अंग्रेजी में (Independence Day Speech in Hindi and english )

इस दिन सभी सरकारी दफ्तर, कार्यालयों में तिरंगा फहराया जाता है और राष्ट्रगान “जन-गण-मन” गया जाता है। स्कूल, कॉलेजों में विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है और मिठाइयां बांटी जाती हैं। मंगल पांडे, सुभाष चंद्र बोस, भगत सिंह, रामप्रसाद बिस्मिल, रानी लक्ष्मीबाई, महात्मा गांधी, अशफाक उल्ला खां, चंद्रशेखर आजाद, सुखदेव, राजगुरु आदि कई स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों को याद किया जाता है।

कुछ भारतीय पतंग उड़ा कर तो कुछ कबूतर उड़ा कर आज़ादी मानते हैं। प्रतिवर्ष स्वतंत्रता दिवस मनाना भारत के स्वतंत्रता के इतिहास को जिंदा रखता है और आजादी का सही मतलब लोगों को समझाता है।

Hello Friends, welcome to the website of SikhIndia, friends today, we will discuss about our Independence Day 15 August Friends. Friends, our country was liberated from the British on 15 August 1947 and celebrates this day every year as Independence Day.

Essay on 15 August can be obtained through this post.  To join any essay competition based on Independence Day, students can get Independence Day Essay in Hindi from here.

This year India will celebrate its 75th Independence Day.  On 15 August 1947, our country was completely free from British rule.  We all Indians celebrate this day with great enthusiasm and pride.  Every year after independence, we celebrate this day as Independence Day.  This day is a holiday in all government offices like banks, post offices etc.  Along with this, the tricolor is hoisted in all schools and offices.

Essay on 15 august

 15 August 1947 was a very lucky day for India.  On this day, after nearly 200 years of slavery by the British, our country attained independence.  Many freedom fighters had to die to get freedom for India.  India was liberated from British rule after a tough struggle of freedom fighters.  From then until today, 15 August is considered as Independence Day.

Independence Day is a national holiday in India.  A day before this, the President of India addresses the country.  Which is also shown in many TV channels along with radio.  Every year on Independence Day, the Prime Minister of the country hoists the tricolor on the Red Fort.  After hoisting the tricolor, the national anthem is sung and 21 rounds are fired and a salute is also given.  Along with this, the Indian Armed Forces, paramilitary forces and NNCC cadets parade.  On this day the Red Fort is broadcast live on TV’s DD National Channel and All India Radio.  Keeping in mind the threat of terrorism, strict security measures are also done.

With only the capital of the country, in all other states of the country, the Chief Minister also hoists the tricolor with respect.  On August 15, our great freedom fighters are paid homage and are honored.  Patriotic songs and slogans are chanted on this day.  At the same time, some people celebrate the festival of freedom by flying kites.

We gained independence only after many years of rebellions and on the midnight of 14 and 15 August 1947, India became an independent country.  The flag of India was first unveiled by Pandit Jawaharlal Nehru at the Red Fort in Delhi.  He gave a “Tryst with Destiny” speech at the stroke of midnight.  The whole nation listened to him with utmost joy and satisfaction.  Since then every year on Independence Day, the Prime Minister hoists the national flag at the Red Fort in Old Delhi and addresses the public.  Along with this, a 21-gun salute is also given to the tricolor.

We gained independence only after many years of rebellions and on the midnight of 14 and 15 August 1947, India became an independent country.  The flag of India was first unveiled by Pandit Jawaharlal Nehru at the Red Fort in Delhi.  He gave a “Tryst with Destiny” speech at the stroke of midnight.  The whole nation listened to him with utmost joy and satisfaction.  Since then every year on Independence Day, the Prime Minister hoists the national flag at the Red Fort in Old Delhi and addresses the public.  Along with this, a 21-gun salute is also given to the tricolor.

On this day, the tricolor is hoisted in all government offices, offices and the national anthem “Jan-gana-mana” is sung.  Various types of programs are organized in schools, colleges and sweets are distributed.  The sacrifices of many freedom fighters like Mangal Pandey, Subhash Chandra Bose, Bhagat Singh, Ramprasad Bismil, Rani Laxmibai, Mahatma Gandhi, Ashfaq Ulla Khan, Chandrasekhar Azad, Sukhdev, Rajguru etc. are remembered.

Some Indians consider freedom by flying kites and some by flying pigeons.  Celebrating Independence Day every year keeps the history of India’s independence alive and explains the true meaning of freedom to the people.

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी हो तो या इस से सम्बंधित किसी भी सवाल के लिए आप हमसे हमारे फेसबुक पेज पर contact कर सकते है। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *